पतंजलि शिलाजीत रसायन वटी के फायदे नुकसान – कैसे प्रयोग करें?

0
1082

 पतंजलि शिलाजीत रसायन वटी के बारे में जानकारी

पतंजलि शिलाजीत रसायन वटी या Patanjali Shilajit Rasayan vati In Hindi एक आयुर्वेदिक दवा है जो कि पुरुषों के लिए विशेष रूप से उपयोगी होती है| शिलाजीत रसायन वटी लड़कों और मर्दों कि सेक्स पावर को बढ़ाती है और शरीर की नसों को मजबूत करने का कार्य करती है| दिव्य शिलाजीत रसायन वटी का नियमित सेवन करने से पुरुषों को मर्दाना शक्ति बढ़ाने के अलावा कई फायदे मिलते हैं जैसे कि थकावट, शारीरिक दुर्बलता, सेक्स करने की इच्छा में कमी, शरीर में दर्द, जोड़ों का दर्द, हल्का सा काम करने पर सांस फूलना यानी कि शरीर के स्टैमिना में कमी होना आदि| अजीत रसायन वटी का कुछ दिनों तक इस्तेमाल करने के बाद पुरुषों के वीर्य में वृद्धि होती है इसके अलावा आंखों से जुड़ी गुप्त समस्याएं जैसे कि लिंग में तनाव की कमी होना जैसे कि इरेक्टाइल डिस्फंक्शन के नाम से जाना जाता है. नपुंसकता या नामर्दी. शीघ्रपतन और स्वपनदोष जैसी समस्याओं में भी फायदा मिलता है कुछ मर्दों मैं तो ऐसी समस्याएं पूरी तरह से खत्म हो जाती है|

loading...

patanjali shilajit rasayan vati ke fayde nuksan

पतंजलि शिलाजीत रसायन वटी के घटक | शिलाजीत रसायन वटी में क्या पाया जाता है

पतंजलि शिलाजीत रसायन वटी में केवल शिलाजीत ही नहीं बल्कि दूसरी ऐसी सामग्री पाई जाती है जो कि पुरुषों की सेक्स पावर को बढ़ाने के लिए और पुरुषों की यौन रोगों को खत्म करने के लिए जरूरी होती है जैसे अश्वगंधा. गोखरू. सफेद मूसली. स्वर्ण भस्म. दालचीनी. शॉर्ट. कौंच के बीज आदि मुख्य घटक होते हैं और इनके अलावा दूसरे भाई के घटक शिलाजीत रसायन वटी में पाए जाते हैं जोकि पुरुषों की सभी प्रकार की समस्याओं को दूर करने में सक्षम होते हैं| तो चलिए जानते हैं पतंजलि शिलाजीत रसायन वटी के लाभ और गुण क्या होते हैं और कब आपको शिलाजीत रसायन वटी लेने से परहेज रखना चाहिए|

पतंजलि शिलाजीत रसायन वटी के लाभ या फायदे | benefits of patanjali shilajit rasayan vati in Hindi

पतंजलि शिलाजीत रसायन वटी मर्दाना शक्ति बढ़ाने की दवा है

loading...

पतंजलि शिलाजीत रसायन वटी Patanjali Shilajit Rasayan vati In Hindi के नियमित प्रयोग से किसी भी कारण से आई नपुंसकता या नामर्दी की समस्या खत्म हो जाती है और मर्दाना शक्ति फिर से पहले जैसी हो जाती है| शिलाजीत और राजा महाराजा अपनी सेक्स पावर बढ़ाने के लिए इस्तेमाल में जाते थे किसलिए यदि आप भी मर्दाना कमजोरी की समस्या से परेशान है और लिंग की नसों को मजबूत करना चाहते हैं तो पतंजलि शिलाजीत रसायन वटी आपके लिए एक रामबाण उपचार साबित हो सकती है| इस वटी का सेवन करने से आपकी सेक्स पावर कई गुना बढ़ जाती है और आपके शरीर में ऊर्जा और स्टैमिना भरपूर मात्रा में हो जाता है|

वीर्य को गाढ़ा और शुक्राणुओं की कमी दूर करती है यह वटी

पतंजलि शिलाजीत रसायन वटी वीर्य में पतलेपन को दूर करके मेरे को गाढ़ा को शुक्राणुओं से भरपूर कर देती है| इसीलिए यदि आप वीर्य के पतलेपन या शुक्राणुओं की कमी समस्या के कारण नपुंसकता से परेशान है तो आप कम से कम 15 दिन तक शिलाजीत रसायन वटी का सुबह-शाम दूध के साथ सेवन करें ताकि आपका वीर्य पुष्ट और शुक्राणुओं की संख्या मैं बढ़ोतरी हो सके|

शीघ्रपतन को दूर करने की दवाई है शिलाजीत रसायन वटी

पतंजलि शिलाजीत रसायन वटी शीघ्रपतन की समस्या मैं भी लाभकारी होती है| वोटिंग का नियमित कोर्स करने के बाद आपको शीघ्रपतन की समस्या से छुटकारा मिलता है और आपका सेक्स टाइम पहले से काफी अच्छा हो जाता है|

स्वपनदोष का इलाज है पतंजलि शिलाजीत रसायन वटी

यदि आप स्वपनदोष अपनी समस्या से ग्रस्त हैं और किसके कारण आपके शरीर में कमजोरी या दुर्बलता आ गई है और रोजाना आपका स्वपनदोष हो जाता है वैसे मैं आपको सुबह शाम कुछ दिनों तक शिलाजीत रसायन वटी का सेवन करना चाहिए जिसके कारण आपके स्वपनदोष की समस्या को पूरी तरह से दूर करने में मदद मिल सके|

पतंजलि शिलाजीत रसायन वटी इरेक्टाइल डिस्फंक्शन की मेडिसिन

इरेक्टाइल डिस्फंक्शन यानी कि लिंग की कमजोरी या सेक्स के दौरान लिंग में सही से तनाव ना आ पाना की समस्या को कहते हैं जिसके कई कारण जिम्मेदार होते हैं तो यदि आप भी इस समस्या के कारण परेशान है और लिंग की कमजोरी यानसों में दुर्बलता के कारण आप नपुंसकता या नामर्दी की समस्या को झेल रहे हैं और नियमित रूप से पतंजलि शिलाजीत रसायन वटी का प्रयोग करके आप इस समस्या से पूरी तरह से छुटकारा पा सकते हैं क्योंकि दिव्य शिलाजीत रसायन वटी निरंतर डिस्फंक्शन के लिए एक रामबाण औषधि या दवा मानी जाती है|

पतंजलि शिलाजीत रसायन वटी के लाभ

जैसा कि हमने आपको ऊपर के लेख में बताया की पतंजलि याद दिव्य शिलाजीत रसायन वटी के कई फायदे होते हैं लेकिन उनके अलावा भी शिलाजीत रसायन वटी के कई लाभ आपको मिलते हैं जैसे

शिलाजीत रसायन वटी के नियमित सेवन से दिल को मजबूती मिलती है और दिल की सेहत में सुधार आता है|

किस वटी का नियमित सेवन करने से आप की रोग प्रतिरोधक क्षमता बढ़ती है और आपका शरीर हमेशा ऊर्जावान रहता है|

शरीर में कहीं भी दर्द की समस्या हो या जोड़ों में दर्द की समस्या आ रही है तो इस वटी का नियमित सेवन करने से आपको काफी लाभ मिलेगा|

पुरुषों में जब स्टैमिना की कमी हो जाती है तो हल्का सा काम करने पर उन्हें थकावट या कमजोरी की समस्या आने लगती है तो ऐसे में शिलाजीत रसायन वटी का कोर्स करने पर आपको बहुत ही लाभ मिलेगा और आपका स्टैमिना बेहतर बन जाएगा|

पतंजलि शिलाजीत रसायन वटी के सेवन की विधि और इस्तेमाल करने का तरीका

वैसे तो पतंजलि शिलाजीत रसायन वटी का इस्तेमाल किया प्रयोग करने से पहले आपको किसी अच्छे वैद्य की सलाह देनी चाहिए | योग्य सेवन की विधि की बात करें तो भोजन करने के बाद एक एक गोली सुबह और रात को दूध के साथ नैनो की सलाह दी जाती है| लेकिन अब फिर से अपनी बात दोहराएंगे कि बेहतर यही होता है की गोली लेने से पहले आप पतंजलि दवा विक्रेता के पास उपलब्ध आयुर्वेदिक डॉक्टर की सलाह के अनुसार ही इस गोली का सेवन करें ताकि आपको किसी प्रकार का कोई नुकसान ना हो|

पतंजलि शिलाजीत रसायन वटी के नुकसान } side effects of patanjali shilajit rasayan vati in Hindi

वैसे तो पतंजलि की यौनशक्ति वर्धक यह दवा के नुकसान बहुत ही कम होते हैं फिर भी यदि आपको दवा लेने के बाद किसी प्रकार की एलर्जी या पेट से जुड़ी परेशानी आए तो इसका इस्तेमाल ना करें| यदि आप किसी प्रकार के रोग से ग्रसित हैं या किसी रोग के लिए दवा ले रहे हैं तो बिना डॉक्टर की सलाह के इस दवा का सेवन ना करें| छोटे बच्चों और महिलाओं के लिए इस दवा का सेवन करना वर्जित माना गया है} इस बात का हमेशा ध्यान रखें कि इस वटी का सेवन आपको हमेशा भोजन करने के 1 घंटे बाद ही करना है खाली पेट इस दवा का सेवन करने से नुकसान या साइड इफेक्ट हो सकते हैं}

तो मित्रों, आज आपने जाना कि पतंजलि शिलाजीत रसायन वटी के फायदे नुकसान क्या होते हैं और इसके प्रयोग का सही तरीका और मात्रा के साथ-साथ कोर्स की अवधि के बारे में भी हमने आपको जानकारी दी } अगर आपके मन में कोई प्रशन है तो हमसे जरूर पूछें|

Health की सही जानकारी के लिए आज ही subscribe करें हमारा चैनल


 

loading...

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here