सरसों के तेल से स्तन (ब्रैस्ट) की मालिश करने के फायदे या लाभ

0
318

सरसों के तेल से स्तन की मालिश या मसाज के बारे में जानकारी

लड़की को सुंदर आकर्षक दिखाने के लिए उनके स्तन यानि ब्रेस्ट अहम भूमिका निभाते हैं क्योंकि लड़की की सुंदरता को चार चांद लगाने के लिए सुंदर ब्रेस्ट होनी जरूरी है लेकिन कई कारणों से कुछ लड़कियों के ब्रेस्ट यानी स्तन छोटे आकार के होते हैं, स्तन का आकार और आकृति ठीक नहीं होती तो ऐसे में लड़कियां महंगी दवाइयां और ट्रीटमेंट लेने के बारे में सोचती है लेकिन ऐसे ट्रीटमेंट और दवाइयों के साइड इफेक्ट बहुत होते हैं ऐसे में आपको चाहिए कि प्राकृतिक तरीका अपना कर अपने ब्रेस्ट का साइज ठीक कर सके और अपने स्तन का आकार और आकृति आकर्षक बना सके| ऐसा करने का सबसे सरल घरेलू तरीका है कि सरसों के तेल की ही रोजाना अपने स्तन पर मालिश करना यानी सरसों का तेल लगाकर अपने ब्रेस्ट की मसाज करना जिसे आपको कई प्रकार से फायदे मिलते हैं| तो चलिए जानते हैं सरसों के तेल से ब्रेस्ट की मालिश या मसाज करने से क्या फायदे या लाभ मिलते हैं| सरसों के तेल से स्तन की मालिश करने का सही तरीका या इस्तेमाल करने की विधि क्या है|

loading...

sarso ke tel se breast massage ke labh

सरसों के तेल से स्तनों की मालिश करने के फायदे

तो चलिए जानतें हैं सरसों के तेल से स्तनों की मसाज करने के लाभ के बारे में विस्तार में|

सरसों के तेल की मालिश ब्रेस्ट बढ़ाने का एक अच्छा उपाय होता है

loading...

सरसों के तेल की मसाज करने से आप छोटे स्तन को बड़ा कर सकते हैं यानी कि ब्रेस्ट के साइज को बढ़ा सकते हैं क्योंकि तेल की मसाज करने से आपके ब्रेस्ट में खून का दौरा बढ़ता है जिसके कारण स्तन का आकार बढ़ाने में मदद मिलती है ऐसा हम नहीं रिसर्च भी कहती है कि सरसों के तेल की नियमित मसाज स्तन पर करने से स्तन का विकास तेजी से होने लगता है तो यदि आप छोटे ब्रेस्ट साइज से परेशान हैं तो आपको रोजाना 10 मिनट 1 महीने तक अपने स्तन की सरसों के तेल के साथ मालिश करनी चाहिए|

सरसों के तेल से ब्रेस्ट को सुंदर कैसे बनाएं

सरसों के तेल से तेल की मालिश करने से आपके ब्रेस्ट में खून का दौरा अच्छा होता है जिसके कारण पाकिस्तानी स्वस्थ और सुंदर रहते हैं और आपको सुडोल छाती मिलती है जोकि आपकी सुंदरता में चार चांद लगाने के लिए काफी होती है| बस आपको रोजाना 10 मिनट सरसों के तेल से अपने स्तन की मालिश करनी है और यदि आप ऐसा करती है तो आपके स्तन हमेशा सुंदर और स्वस्थ रहते हैं|

ब्रेस्ट या स्तन का ढीलापन दूर करता है सरसों का तेल

सरसों का तेल नियमित रूप से तन पर लगाकर ब्रैस्ट मसाज करने से स्तन में ढीलेपन की समस्या से छुटकारा पाया जा सकता है और स्तन की मांसपेशियों को मजबूत बनाकर तन्मय ढीलेपन की समस्या को कम किया जा सकता है तो आज से ही सरसों की तेल की मालिश करना शुरू कर दीजिए आपको कुछ ही दिनों में सकारात्मक फर्क महसूस होने लगेगा|

सुंदर सुडोल ब्रेस्ट पाने का तरीका है सरसों का तेल

सरसों के तेल से ब्रैस्ट मसाज करने से आपके स्तन सुंदर और सुडौल बनते हैं जिसके कारण आपके पूरे शरीर की काया सुंदर दिखती है इसके अलावा आप पर हर प्रकार के कपड़े फिर आते हैं जिसके कारण आप आकर्षक और सुंदर दिखते हैं|

स्तन कैंसर के खतरे से बचाव

रिसर्च में यह सब हो चुका है की सरसों के तेल से नियमित रूप से स्तन की मालिश करने से आपके स्तन में खून का दौरा अच्छा होता है जिसके कारण स्तन में गांठ बनने की समस्या या कैंसर होने की समस्या से आपका बचाव होता है|

सरसों के तेल से स्तन की मालिश करने से आप हमेशा रहते हैं जवान

सरसों का तेल स्तन की मालिश के लिए उपयोग में लाने का अगला फायदा यह होता है कि यह आपके शरीर में ग्रंथियों को उत्तेजित करता है जिससे कि आपके शरीर को युवा रखने वाले हारमोंस के बढ़ोतरी होती है और आप अपनी उम्र से लगभग 10 साल छोटी दिखाई देती है| इसलिए यदि आप लंबी उम्र तक जवान देखना चाहती हैं तो आपको नियमित रूप से ब्रेस्ट मसाज करते रहना चाहिए|

सरसों के तेल से ब्रेस्ट मसाज का फायदा या लाभ

सरसों का तेल स्तन पर लगाने से केवल आपको सुंदर सुडौल शरीर नहीं मिलता बल्कि यह करियर आपके शरीर में ऑक्सीटोसिन हार्मोन के लेवल को बढ़ाने में मदद करती है जिसके कारण आपको मानसिक तनाव डिप्रेशन और चिंता जैसी समस्याओं से छुटकारा मिलता है|

सरसों के तेल से ब्रेस्ट या स्तन की मालिश करने का तरीका | सही विधि

ब्रेस्ट का साइज बढ़ाने के लिए या स्तन को सुडौल करने के लिए सरसों के तेल से स्तन की मालिश करने का तरीका या तकनीक बहुत ही साधारण होती है लेकिन एक बात ध्यान रखिए कि सरसों का तेल का चुनाव करते समय हमेशा ओरिजिनल प्रोडक्ट ही खरीदें वरना आपको त्वचा पर जलन या खुजली और एलर्जी की शिकायत हो सकती है| सरसों के तेल को स्तन पर मसाज करने के लिए उत्तम बनाने के लिए हल्के गर्म तेल का इस्तेमाल करें| अपने हाथों के द्वारा सरसों के तेल को अपने स्तन पर लगाकर स्तन की गोलाकार आकृति में मालिश करें पहले हाथ को दक्षिणा व्रत दिशा में घुमाया फिर वामावर्त दिशा में लेकिन ध्यान रखें कि निप्पल वाले स्थान पर तेल का इस्तेमाल करना कभी नहीं चाहिए|

सरसों के तेल से स्तन की मालिश कितनी देर करनी है?

ब्रैस्ट मसाज यानी सरसों के तेल को स्तन पर लगाकर मालिश करना आपको कभी भी 15 मिनट से अधिक नहीं करना है| दिन में दो बार सुबह शाम 10 मिनट के लिए स्थान की मसाज करने से आपको काफी फायदा मिलेगा खासकर यदि आप नियमित रूप से 1 महीने तक सरसों के तेल से अपने स्तन की मालिश करते हैं तो आपको मनचाहा सुडोल सुंदर वक्षस्थल मिल जाएगा|

सरसों के तेल से breast की मालिश करने के नुकसान

सरसों के तेल की मालिश करने के नुकसान आपको तब हो सकते हैं यदि सरसों का तेल ओरिजिनल ना हो या फिर आपको सरसों के तेल से किसी प्रकार की कोई एलर्जी की समस्या हो रही हो| यदि आपको सरसों का तेल स्तन पर लगाने के बाद एलर्जी के लक्षण महसूस हो रहे हैं यह त्वचा पर तेज खुजली या लालिमा जैसे लक्षण नजर आ रहे हैं तो आपको सरसों के तेल से ही ब्रैस्ट मसाज करने से परहेज करना चाहिए या फिर अच्छी क्वालिटी का सरसों का तेल स्तन की मसाज करने के लिए इस्तेमाल में लाना चाहिए|

सरसों के तेल से स्तन यानी ब्रेस्ट की मसाज आप को एकदम से तेजी से परिणाम नहीं देती लेकिन इतना जरूर है कि सरसों के तेल को अपने स्तन पर लगाकर मालिश करने से आपको पहले दिन से ही बदलाव दिखाई देने लगेंगे लेकिन हम आपसे यह कहना है कि कम से कम 1 महीने तक रोजाना सरसों के तेल से ब्रेस्ट मसाज करें तो ऐसे में प्राकृतिक रूप से आपको मनचाहा सुडौल शरीर मिल जाएगा|

जल्दी रिजल्ट पाने के लिए दिन में कम से कम 2 बार सरसों के तेल को अपने ब्रेस्ट पर लगाकर मालिश करें जाने की सुबह शाम और यदि आप ऐसा करती हैं तो आपको सुडोल आकर्षक और सुंदर वक्षस्थल पाने में मदद मिलेगी|

Health की सही जानकारी के लिए आज ही subscribe करें हमारा चैनल


 

loading...

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here