नार्मल वीर्य में स्पर्म काउंट कितना होना चाहिए प्रेगनेंसी के लिए स्वस्थ वीर्य की मात्रा

0
80
loading...

वीर्य में स्पर्म काउंट कितना होना चाहिए? नार्मल स्पर्म काउंट लेवल कितना हो की pregnant हो सकें

भारत में कई लोग low sperm count या वीर्य में शुक्राणु की संख्या की कमी या निल शुक्राणु की समस्या से झूझ रहे हैं| ऐसे में पुरुष या जो लोग प्रेगनेंसी के लिए try कर रहे हैं या जो लोग किसी बीमारी का कमजोरी के कारण वीर्य की पतलेपन या धात गिरने के कारण वीर्य में शुक्राणु की कमी होने का दर रखते हैं वो लोग ये हमेशा पता लगाना चाहते हैं की वीर्य में सामान्य या नार्मल कितने शुक्राणु होने चाहिए की प्रेगनेंसी पाने में कोई समस्या ना आये| तो चलिए जानते हैं की स्पर्म काउंट नार्मल कितना होना चाहिए स्वस्थ पुरुष के 1ml वीर्य के अन्दर|

virya me sperm count kitna ho

स्पर्म काउंट नार्मल कितना होना चाहिए? | Normal sperm count kitna ho chahiye 

यदि आप स्वस्थ इंसान हैं तो आपके 1 ml वीर्य की मात्रा में स्पर्म की संख्या

loading...

40 मिलियन से 300 मिलियन होनी चाहिए। यदि आपकी स्पर्म काउंट इस रेंज के बीच में है तो आपको कोई परेशानी नहीं होगी प्रेगनेंसी पाने में|

low स्पर्म काउंट अब होता है? | low sperm count ki pehchaan 

यदि आपके वीर्य के प्रति मिलिलीटर में 10 मिलियन से 20 मिलियन स्पर्म काउंट है तो यह low स्पर्म काउंट माना जाता है| लेकिन कई लोगों को इससे प्रेगनेंसी पाने में कोई प्रॉब्लम नहीं होती क्योंकि उनके शुक्राणु healthy होते हैं|

low sperm count ke side effects | शुक्राणु कम होने के नुकसान

वीर्य में शुक्राणु कम होने से यानि low स्पर्म काउंट होने से नपुंसकता या नामर्दी होने के अलावा कई प्रकार के गुप्तरोग या शरीर के दूर्सरे रोग जैसे दिल की बीमारी या डायबिटीज होने का खतरा बढ़ सकता है|

एक रिसर्च में पाया गया है की कम शुक्राणुओं की संख्या वाले पुरुषों में हाई ब्लड प्रेशर, हाई कोलेस्ट्रॉल होने की सम्भावना अधिक होती है|

इसके अलावा रिसर्च में पाया गया की low स्पर्म काउंट होने से हड्डियाँ भी कमजोर होने लगती है|

low स्पर्म काउंट होने का खतरा बढ़ रहा है? Low sperm count ke karan 

आज कल के लाइफस्टाइल, नशा, बुरी आदतों और ख़राब खान पान के कारण रिसर्च में ये पाया गया है की हर गुजरते साल के साथ पुरुषों में स्पर्म काउंट और स्पर्म की क्वालिटी में गिरावट आ रही है| इसके लिए जिम्मेदार कारण हैं मानसिक तनाव, शराब, मोटापा आदि|

स्पर्म काउंट नार्मल करने के उपाय या स्पर्म काउंट कैसे badhaye

low स्पर्म काउंट की प्रॉब्लम को दूर करने के लिए और स्पर्म काउंट नार्मल करने के लिए आप कुछ उपाय कर सकते हैं जैसे

हमेशा ये कोशिश करिए की आप जितना स्वस्थ खान पान रख सकें उतना आपके लिए अच्छा होगा| जंक फ़ूड और फ़ास्ट फ़ूड से परहेज रखिये|

शराब,, चाय, कॉफ़ी आदि से परहेज करिए और ग्रीन का सेवन करिए जिससे आपके शारीर को एंटीऑक्सीडेंट मिलें|

अपने वजन को कण्ट्रोल में रखिये ताकि आपका शरीर स्वस्थ रहे जब शरीर के कार्य बेहतर बनेगे तो उससे आपके स्पर्म का निर्माण भी बेहतर होगा|

डॉक्टर से पूछकर कोई अच्छा मल्टीविटामिन सप्लीमेंट का सेवन करें ताकि पोषण की कमी दूर हो इससे वीर्य में शुकार्णुओं को बनाने के लिए जरुरी पोषण मिलेगा|

रोजाना एक्सरसाइज करके अपने वेट को नार्मल करिए क्योंकि healthy शुक्राणु स्वस्थ शरीर में बनते हैं|

तो दोस्तों, आज आपने जाना की वीर्य में स्पर्म काउंट कितना होना चाहिए और कैसे बढ़ाये वीर्य में स्पर्म काउंट को| यदि कोई प्रश्न हो तो हमसे जरुर पूछिए|

loading...

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here