वीर्य को बाहर आने से रोकने के नुकसान | वीर्य का वेग रोकने के नुकसान

0
326

मुठ ना मारने के नुकसान | वीर्य वेग को रोकने के खतरे क्या हैं?

वीर्य वेग क्या है – Virya Veg kya hai?- वीर्य को अंदर रोकने के कई खतरे या नुकसान हो सकते हैं जिस प्रकार आप का पेशाब नियमित रूप से बनता रहता है ठीक उसी प्रकार आप का वीर्य भी लगातार बनता रहता है और यदि आप हस्तमैथुन नहीं करते या फिर हस्तमैथुन करते समय अपने वीर्य को बाहर आने से रोकते हैं यानी वीर्य के वेग को रुकते हैं तो ऐसे में आपको कहीं समस्याओं का सामना करना पड़ता है| आमतौर पर आपका वीर्य हस्तमैथुन संभोग और स्वपनदोष के रूप में बाहर निकल जाता है लेकिन यदि आप किसी दवा का इस्तेमाल करके या हस्तमैथुन करते समय वीर्य को रुकते हैं तो आपको कई प्रकार के नुकसान हो सकते हैं जिनके बारे में आज हम आपको बताएंगे कि वीर्य को रोकने के क्या नुकसान होंगे|

loading...

 virya ko bahar nikalne se rokne ke nuksan

वीर्य को बाहर आने से रोकने के नुकसान – Virya Veg Rokne Ke Nuksan

वीर्य को अन्दर रोकने से होता है मूत्राशय में दर्द

जब आप किसी दवा द्वारा या हस्तमैथुन करते समय अपने वीर्य को बाहर आने से रोकते हैं तो ऐसे में आपके मूत्राशय पर जोर पड़ता है और जब ऐसा होता है तब आपको मूत्राशय में दर्द की समस्या रहने लगती है जिसके कारण आपको लिंग के ऊपर की तरफ दर्द रहने लगा है इसलिए हफ्ते में कम से कम एक बार हस्तमैथुन करें और अपने वीर्य को कभी भी रोकने की कोशिश ना करें| क्योंकि ऐसा करने पर आपको डॉक्टर के पास भी जाना पड़ सकता है|

 मुठ ना मारने के नुकसान है किडनी में सूजन

loading...

यदि आप मुठ नहीं मारते या हस्तमैथुन नहीं करते हस्तमैथुन करते समय वीर्य को रोकने की कोशिश करते हैं तो ऐसे में वीर्य अंदर ही अंदर इकट्ठा होता रहता है जिसके कारण आपकी किडनी पर दबाव पड़ता है ऐसा होने से किडनी में सूजन आ सकती है जो कि एक गंभीर समस्या बन सकती है इसलिए कभी भी वीर्य के वेग को रोकने की कोशिश ना करें|

हस्तमैथुन ना करने का नुकसान शुक्राणुओं में कमी होना

यदि आप हस्तमैथुन नहीं करते या मुठ नहीं मारते तो ऐसा करने से आपके जो शुक्राणु हैं वह स्वस्थ नहीं रह पाते क्योंकि आपके शरीर में नए वीर्य का निर्माण हस्तमैथुन करने से प्रभावित होता है जिसके कारण ने स्वस्थ शुक्राणु नहीं बन पाते और ऐसा होने से आपके बगैर में शुक्राणुओं की कमी होने लगती है और जो शुक्राणु पुराने होते हैं वह किसी काम के नहीं होते इसलिए यदि आप स्वस्थ रहें और शुक्राणु चाहते हैं तो नियमित रूप से हस्तमैथुन करते रहें यानी कि हफ्ते में एक दो बार| इसके अलावा यह भी जरूरी होता है हस्तमैथुन करते समय वीर्य को रोकना नहीं चाहिए क्योंकि ऐसा करने से आपके शरीर में नए वीर्य का निर्माण नहीं हो पाता और धीरे-धीरे यह समस्या आगे चलकर नामर्दी या नपुंसकता में बदल सकती है|

वीर्य बाहर आने से रोकने के कारण हो सकता है लिंग में दर्द होना

यदि आप सेक्स या हस्तमैथुन करते समय अपने वीर्य को रोकते हैं या हस्तमैथुन नहीं करते तो ऐसा करने से आपकी लिंग की नसों पर दबाव करता है जिसके कारण आपको लिंग में दर्द रहने की समस्या होने लगती है और आपको यह कारण भी नहीं पता चलता कि ऐसा किस कारण से हो रहा है क्योंकि वास्तव में जो आप वीर्य बाहर आने से रोक रहे हैं वह वीर्य ही जिम्मेदार होता है लिंग में लगातार दर्द रहने के पीछे|

वीर्य को बाहर आने से रोकने के कारण हो सकते हैं अन्य नुकसान

यदि आप लंबे समय तक हस्तमैथुन नहीं करते या सेक्स के द्वारा अपने वीर्य को बाहर नहीं निकालते और यदि आप मुठ मारते समय अपने वीर्य को बाहर आने से रोते हैं तो ऐसा करने से आपको निम्न प्रकार की समस्याएं हो सकती है जैसे कि

रात को सोते समय पेशाब का निकल जाना

सही प्रकार से नींद ना आना

मस्तिष्क पर दबाव पड़ना

पेडू में दर्द रहना

अंडकोष में दर्द या सूजन की समस्या हो जाना

इसके अलावा भी कई ऐसे नुकसान होते हैं जो वीर्य को रोकने के कारण आपको दिखाई दे सकते हैं| इसलिए दोस्तों हफ्ते में एक दो बार आपको हस्तमैथुन करते रहना चाहिए और अपने वीर्य को बाहर आने से कभी भी रोकने की कोशिश नहीं करनी चाहिए|

Health की सही जानकारी के लिए आज ही subscribe करें हमारा चैनल


 

loading...

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here