वीर्य में शक्राणुओं की संख्या पाता करने की जांच स्पर्म काउंट टेस्ट क्या है?

0
649
loading...

वीर्य में शुक्राणुओं की संख्या की जांच कौनसी होती है? What is a sperm count test in Hindi

कई बार ऐसा होता है कि पुरुषों में स्वस्थ शुक्राणुओं की संख्या कम होती है जिससे उन्हें प्रेगनेंसी पानी में समस्या आती है इसके अलावा यदि पुरुष ने नसबंदी करवाई है और यह पता लगाने के लिए की नसबंदी सही से हुई है या नहीं के लिए एक टेस्ट किया जाता है जिसे की सामान्य भाषा में वीर्य में शुक्राणुओं की संख्या जानने की जांच कह सकते हैं| मेडिकल भाषा में इसे Semen analysis या sperm count test नाम से जाना जाता है जो कि आपकी वीर्य में स्वस्थ शुक्राणुओं की संख्या का पता लगाने के लिए किया जाता है| इसके अलावा आपके वीर्य की जांच यह भी पता लगाती है कि आपका भी रेट कितना स्वस्थ है| इस जांच में निम्न तीन बातों का ख्याल रखा जाता है

virya me shukranu kitne hai kaise pata kare

आपके वीर्य में शुक्राणु कितने हैं यानी शुक्राणुओं की संख्या कितनी है

loading...

आपके वीर्य में शुक्राणुओं का आकार कैसा है

इसके अलावा इस जांच के द्वारा आपके शुक्राणु की गतिशीलता कभी पता लगाया जाता है|

आमतौर पर डॉक्टर दो या तीन टेस्ट करता है ताकि आपके वीर्य में शुक्राणु की औसत संख्या का पता लगाया जा सके|

वीर्य में शुक्राणु की संख्या की जांच क्यों की जाती है?

आमतौर पर आपके वीर्य में शुक्राणु की जांच यानी कि स्पर्म काउंट टेस्ट इसलिए किया जाता है ताकि आपकी फर्टिलिटी का पता चल सके| कुछ पुरुषों में प्रेगनेंसी पानी के लिए शुक्राणुओं की कमी की समस्या हो जाती है ऐसे में स्पर्म काउंट टेस्ट से यह पता चलता है कि उसके वीर्य में कितने शुक्राणु हैं और शुक्राणु की गतिशीलता कैसी है| प्रेगनेंसी पाने के लिए आपके वीर्य में पर्याप्त मात्रा में शुक्राण होने के साथ-साथ शुक्राणु की गतिशीलता भी होनी चाहिए|

शुक्राणुओं की संख्या की जांच करने का दूसरा कारण होता है कि जिन पुरुषों की नसबंदी हुई होती है उन पुरुषों के वीर्य में शुक्राणु की संख्या का पता लगाने के लिए डॉक्टर आमतौर पर सीमेन एनालिसिस करवाने की सलाह दे सकता है ताकि यह पता किया जा सके की नसबंदी सफल हुई है या नहीं|

वीर्य में शुक्राणु की संख्या की जांच किस तरह होती है?

यदि आपको यह पता लगाना है कि वीर्य में शुक्राणुओं की संख्या कितनी है तो उसके लिए आपको सीमन एनालिसिस जांच करवानी होती है ऐसे में जांच करवाने से पहले आपको कुछ बातों का ध्यान रखना होता है जैसे|

जांच करवाने से 72 घंटे पहले आपको किसी प्रकार का भी नशा हो छोड़ना पड़ता है|

जांच करने से पहले शराब या किसी प्रकार का नशा नहीं करना होता|

यदि और शुक्राणु बढ़ाने के लिए कोई दवा ले रही है तो उसको जांच करने से कुछ दिन पहले ही छोड़ना पड़ता है|

हार्मोन बढ़ाने वाली दवा या किसी अन्य की दवा प्रकार की दवा का सेवन करने पहली डॉक्टर की सलाह लेनी होती है|

यह कुछ पॉइंट होते हैं जिनका आपको शुक्राणु की संख्या की जांच करने से पहले ध्यान देना होता है| यदि आप इन बातों का पालन नहीं करते तो आपकी शुक्राणुओं की जांच का रिजल्ट गलत आ सकता है|

शुक्राणुओं की संख्या जांच की जांच करने के लिए डॉक्टर आपसे आपके वीर्य का सैंपल मांगता है जिसके लिए आप हस्तमैथुन करके डॉक्टर को सैंपल दे सकते हैं|

वैसे तो डॉक्टर क्लीनिक में ही आपको हस्तमैथुन कर के सैंपल देने की सलाह दे सकता है यदि आप घर से सैंपल लेकर जाते हैं तो 30 मिनट से पहले वह सैंपल डॉक्टर के पास पहुंच जाना चाहिए| वीर्य के सैंपल को अधिक ठंडे या अधिक गर्म ताप में रखने से टेस्ट का रिजल्ट गलत आता है आपके द्वारा दिए गए सैंपल का तापमान हमेशा बॉडी टेंपरेचर के आसपास ही रहना चाहिए|

घर में शुक्राणु की संख्या की जांच कैसे करें?

घर पर शुक्राणु की संख्या करने के लिए की जांच करने के लिए शुक्राणु की संख्या जांचने के लिए किट आती है जिसे आप ऑनलाइन आर्डर करके मंगवा सकते हैं और घर पर शुक्राणुओं की संख्या का पता लगा सकते हैं| अधिक जानकारी के लिए आप किसी अच्छे डॉक्टर से मिलकर सही सलाह लें|

सीमेन एनालिसिस में किन बातों का ध्यान रखा जाता है?

यदि आप अपने वीर्य की जांच करवाते हैं यानी सीमेन एनालिसिस करवाते हैं तो केवल आपके शुक्राणुओं की संख्या का ध्यान नहीं रखा जाता यह आपकी फर्टिलिटी को जांचने का टेस्ट होता है जो कि कई प्रकार की बातों का पता लगाता है और यह पता लगाने में मदद करता है कि आप कितने fertile है?

सीमेन एनालिसिस में शुक्राणुओं की संख्या जांचने के इलावा निम्न बातों का भी पता लगाया जाता है

आपके शुक्राणुओं का आकार सही है या नहीं|

आपके शुक्राणुओं की गतिशीलता ठीक है या नहीं|

आपके वीर्य का pH स्वस्थ है या नहीं|

आपका वीर्य स्वस्थ है या नहीं|

इसलिए यदि आप घर पर शुक्राणु की संख्या की जांच करते हैं तो आपको पूरी तरह से पता नहीं लग सकता कि आपके वीर्य और शुक्राणु की सही हेल्प क्या है इसलिए बेहतर होगा कि आप किसी अच्छे डॉक्टर के पास लैब में अपने वीर्य की जांच करवाएं और सही रिजल्ट पाएं|

Health की सही जानकारी के लिए आज ही subscribe करें हमारा चैनल


 

loading...

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here