लड़की या महिला के स्तन के निप्पल में खुजली होने के सबसे बड़े 10 कारण

0
135

Nipple mein khujli Hona Karan aur Upchar in Hindi

लड़की और महिलाओं के स्तन बहुत ही जरूरी अंग होते हैं क्योंकि जहां एक और यह लड़कियां महिला की खूबसूरती बढ़ाने का कार्य करते हैं वहीं दूसरी ओर लड़की के मां बनने पर नवजात शिशु को कई महीनों तक पोषण देने का भी कार्य करते हैं| ब्रैस्ट यानी स्तन एक बहुत ही सेंसिटिव जगह होती है विशेष रूप से स्तन की निप्पल और कई बार महिलाओं को निपल्स में खुजली होना की समस्या का सामना करना पड़ता है जिसके पीछे कई कारण होते हैं| तो चलिए जानते हैं वह कौन से कारण हैं जो कि लड़की या महिला के स्तन में पाए जाने वाले निपल्स में खुजली करने के पीछे जिम्मेदार होते हैं|

loading...

stan ki nipples mein khujli ke karan aur ilaj

स्तन की निप्पल्स में ख्जली के कारण |nipple itching reasons in Hindi

यदि आप लड़कि या महिला हैं और आपके स्तन में निप्पल मैं खुजली की समस्या आ गई है तो इसके पीछे निम्न कारण जिम्मेदार हो सकते हैं|

हार्मोन में बदलाव के कारण

loading...

आमतौर पर पाया जाता है कि पीरियड के दौरान महिलाओं के शरीर में बहुत सारे हार्मोन और बदलाव आते हैं जिसके कारण पीरियड शुरू होने से पहले उनको निपल्स में खुजली जैसे लक्षण दिखाई देने लगते हैं तो यदि पीरियड आने से पहले आपके स्तन के निप्पल में खुजली आने की समस्या होती है तो ऐसे में घबराने की आवश्यकता नहीं है क्योंकि पीरियड खत्म होने के साथ-साथ यह समस्या भी खत्म हो जाती है|

डर्मेटाइटिस के कारण स्तन में खुजली होना

दवाइयों का सेवन, ब्यूटी प्रोडक्ट का इस्तेमाल, या अन्य किसी कारण से डर्मेटाइटिस की समस्या हो सकती है और ऐसा जब होता है तो स्तनों के निप्पल में खुजली आने की समस्या हो जाती है इसके इलाज के लिए आपको जरूरी होता है कि आप किसी भी केमिकल युक्त पदार्थ का इस्तेमाल अपने स्तनों पर ना करें और डॉक्टर से पूछ कर क्रीम और दवा का सेवन करें|

जैसा कि पहले भी हम आपको बता चुके हैं कि अधिकतर मामलों में स्तनों में खुजली ब्यूटी प्रोडक्ट्स और दवाइयों के इस्तेमाल के कारण होता है। ब्यूटी प्रोडक्ट और दवाइयों की एलर्जी के कारण स्तनों में डर्मेटाइटिस की समस्या होने लगती है।

एटोपिक डर्मेटाइटिस

एटॉपिक डर्मेटाइटिस जैसे कि ब्रेस्ट एक्जिमा के नाम से भी जाना जाता है आपको अधिक होती है जिनकी त्वचा बहुत ज्यादा संवेदनशील होती है एक्टोपिक डर्मेटाइटिस होने के पीछे कई कारण जिम्मेदार हो सकते हैं मानसिक तनाव के कारण, दवाइयों कारण, ज्यादा देर स्विमिंग करने के कारण, आदि| यह समस्या जब होती है तो स्तनों पर लाल चकत्ते बनने लगते हैं जिनमें तेज खुजली चलती है और निपल्स में भी खुजली होने लगती है| इलाज के लिए किसी अच्छे चर्म रोग विशेषज्ञ की सलाह लेनी चाहिए|

कपड़ों से रगड़ लगने के कारण

स्तनों की निपल्स में खुजली आने की समस्या कपड़ों से रगड़ लगने के कारण काफी देखने को मिलती है इस समस्या को मेडिकल भाषा में जोगर्स निप्पल कहा जाता है| इस समस्या से बचाव करने का तरीका है कि आप टाइट ब्रा ना पहने और रात के समय ढीले ढीले कपड़े पहन कर की सोए|

प्रेगनेंसी के कारण स्तनों में खुजली

प्रेगनेंसी की शुरुआत में या प्रेगनेंसी जैसे जैसे आगे बढ़ती है वैसे वैसे आपके स्तन का साइज बढ़ने लगता है और अचानक साइज बढ़ने से ब्रेस्ट की पर्चा में खिंचाव आने के कारण स्तन और निपल्स में खुजली हो सकती है जो कि आम बात होती है जिसमें आपको मानसिक तनाव लेने की आवश्यकता नहीं है|

स्तनपान के कारण

स्तनपान कराने वाली महिलाओं के स्तनों में बार-बार घर्षण होने के कारण निपल्स में खुजली की समस्या हो जाती है जिसके लिए आप डॉक्टर से पूछ कर सही उपाय अपना सकते हैं| स्तनपान के तरीके को बदलने से इस समस्या से राहत मिल सकती है|

ब्रेस्ट सर्जरी होने के बाद निपल्स में खुजली

कई महिलाएं अपने ब्रेस्ट की सर्जरी करवाती है स्तनों को बड़ा या छोटा करने के लिए ऐसे में स्तनों की त्वचा में परिवर्तन आने के कारण और हार्मोन थेरेपी और दवाइयों के कारण पल्स में खुजली आने की समस्या हो सकती है इसके इलाज के लिए आपको डॉक्टर से दवाई लिख वाली नहीं चाहिए ताकि आपको भी समस्या से राहत मिल सके|

फंगल इन्फेक्शन के कारण स्तर के निपल्स में खुजली

साफ सफाई का अभाव और हाइजीन की कमी के कारण स्तन की त्वचा पर फंगल इनफेक्शन होने से आपको स्तन की निपल्स पर खुजली होने की समस्या आ सकती है| इसके इलाज के लिए आपको डॉक्टर से पूछ कर जरूरी क्रीम और दवा का इस्तेमाल करना चाहिए|

निपल्स में खुजली का इलाज क्या होता है | itchy Nipples treatment in Hindi

जैसा कि आप जानते हैं कि निपल्स में खुजली होने के कई कारण जिम्मेदार हो सकते हैं और इलाज इस बात पर निर्भर करता है कि आपके स्तन में निपल्स खुजली होने के पीछे का कारण क्या है डॉक्टर उसी हिसाब से आपको दवा खाने या क्रीम लगाने की सलाह देता है| घरेलू तौर पर आपको अपनी साफ-सफाई का ध्यान रखना चाहिए, यदि आप खेलकूद करती हैं तो ऐसे में टाइट ब्रा पहनने की बजाए खेलकूद के लिए बनी हुई ब्रा का इस्तेमाल करें, अपने खानपान को ठीक रखें और कोई भी समस्या आपको 2 दिन से ज्यादा समय तक परेशान कर रही है उसके साथ आपको कुछ भी गंभीर लक्षण नजर आए तो ऐसे में आपको तुरंत डॉक्टर से सहायता लेनी चाहिए और केवल शर्म के कारण डॉक्टर के पास जाने से परहेज नहीं करना चाहिए क्योंकि कभी-कभी यह समस्या के चलकर गंभीर रूप भी धारण कर सकती है|

Health की सही जानकारी के लिए आज ही subscribe करें हमारा चैनल


 

loading...

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here