वीर्य को गाढ़ा और शक्राणु बढाने वाली दवा या मेडिसिन का नाम

0
3424

शुक्राणुओं की संख्या बढ़ाने और वीर्य को गाढ़ा बनाने की दवा मेडिसिन

दोस्तों, सबसे पहले हम आपको यह बता दे कि वीर्य गाढ़ा या पतला होने से यह जरूरी नहीं कि उसने शुक्राणुओं की संख्या कम हो लेकिन कुछ दवाइयां आती है जो उनके लिए फायदेमंद होती हैं जो वीर्य में शुक्राणुओं की कमी की समस्या के कारण नपुंसकता या नामर्दी झेल रहे हैं या ऐसे लोग जोकि प्रेगनेंसी पाना चाहते हैं लेकिन शुक्राणुओं की कमी के कारण प्रेग्नेंसी पानी में उनको समस्या आ रही है| वीर्य में शुक्राणुओं की संख्या बढ़ाने के लिए कुछ फर्टिलिटी बढ़ाने वाली दवाइयां आती है जो कि आपके शरीर में टेस्टोस्टेरोन की मात्रा को बढ़ाकर वीर्य में शुक्राणुओं की संख्या बढ़ाने में मदद करती है|

loading...

virya gadha shukranu jayada karne wali dawa medicine name in hindi

ऐसी बहुत कम दवाइयां होती हैं जोकि सीधे तौर पर शुक्राणुओं की संख्या बढ़ा सकें लेकिन कुछ दवाइयां होती है जो कि पुरुषों में हार्मोन के लेवल को संतुलित करके शुक्राणु के निर्माण में मदद करती हैं| इनमें से कुछ दवाइयां महिलाओं के लिए इस्तेमाल की जाती है लेकिन पुरुषों के लिए भी यह दवाइयां काम कर सकती है| तो चलिए जानते हैं वह कौन सी दवाइयां मेडिसिन है जिसके द्वारा पुरुषों में शुक्राणु की संख्या बढ़ाई जा सकती है| ध्यान रखिए की यह दवाइयां केवल आपकी जानकारी के लिए है इनका सेवन करने से पहले अपने डॉक्टर की चला लेना बहुत जरूरी होता है| बिना डॉक्टर की सलाह के लेने से खतरनाक साइड इफेक्ट भी हो सकते हैं|

वीर्य को गाढ़ा करने और शुक्राणु बढ़ाने की दवा का नाम

Clomiphene  बढ़ाती है शुक्राणु की संख्या

loading...

Clomiphene  आपके टेस्टिकल को टेस्टोस्टेरोन हार्मोन श्रमिक करवाने में मदद करती है जिसके द्वारा स्वस्थ शुक्राणुओं का निर्माण अधिक संख्या में होता है| स्वास्थ्य शुक्राणुओं का निर्माण होने से उन लोगों को फायदा मिलता है जोकि अस्वस्थ शुक्राणु होने के कारण प्रेगनेंसी नहीं पा सकते|

Gonadotrophins (hCG and hMG)

Gonadotrophins  आपके टेस्टिकल में टेस्टोस्टेरोन की मात्रा बढ़ाकर शुक्राणुओं के निर्माण को उठ प्रेरित करती हैं जिससे कि शुक्राणुओं की कमी की समस्या दूर होती है|

Letrozole  मोटापे के कारण शुक्राणु की कमी की दवा

यदि आपकी मोटापे के कारण शुक्राणुओं की कमी होना है या मोटापा होने के कारण टेस्टोस्टेरोन की कमी है तो ऐसे में डॉक्टर Letrozole  दवा लेने की सलाह दे सकते हैं आमतौर इसकी एक बोली को हफ्ते में एक बार लेना होता है|

Bromocriptine 

Bromocriptine  यह आपके शरीर में प्रोलैक्टिन हार्मोन को रोकती है| प्रोलैक्टिन हार्मोन आपके टेस्टोस्टरॉन लेवल को कम करता है| इसलिए इस दवाई का सेवन करने से टेस्टोस्टेरोन हार्मोन के लेवल में बढ़ोतरी होती है|

Imipramine

यह दवा   retrograde ejaculation की समस्या को दूर करने के लिए काम आती है यानी जब शुक्राणु आपके शरीर में होते हैं लेकिन वह आपके शरीर से बाहर नहीं निकल पाते जिसके कारण आपको नपुंसकता या नामर्दी की समस्या आ जाती है|

Anastrazole

यह दवाई आपके टेस्टोस्टेरोन लेवल को बढ़ाकर शुक्राणुओं की संख्या बढ़ाने में मदद करती है|

Note:- ध्यान रखिए इन दवाइयों का सेवन बिना डॉक्टर की सलाह करने से खतरनाक परिणाम या साइड इफेक्ट देखने को मिल सकते हैं| क्योंकि यह दवाइयां हार्मोनल है इसलिए बिना डॉक्टर की सलाह के इन दवाइयों का उपयोग ना करें|

शुक्राणुओं की संख्या बढ़ाने वाली दवाओं के साइड इफेक्ट

शुक्राणु बढ़ाने वाली दवा का सेवन करने से कई प्रकार के साइड इफेक्ट देखने को मिल सकते हैं जैसे जी मिचलाना, वजन का बढ़ना, चक्कर आना, सेक्स की इच्छा में बदलाव आना, पुरुषों के स्तन बढ़ने की समस्या, चेहरे पर कील मुंहासे या एक्ने की समस्या होना, लीवर से संबंधित समस्याएं आना, हाई ब्लड प्रेशर के अलावा शारीरिक और मानसिक कई प्रकार के साइड इफेक्ट देखने को मिल सकते हैं इसलिए ऐसी दवाइयों का सेवन बिना डॉक्टर की सलाह के कभी नहीं करना चाहिए|

Health की सही जानकारी के लिए आज ही subscribe करें हमारा चैनल


 

loading...

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here